Author: निर्मल रानी

  दास्तान-ए-सफ़र-ए-ग़रीब रथ

     देश की अनेक तीव्रगामी रेल गाड़ियों से तो प्रायः यात्रा करने का अवसर मिलता रहा मगर इत्तेफ़ाक़ से ...

प्रतिबंधित हो मानव बलि लेने वाली अंधविश्वास पूर्ण तंत्र-मंत्र विद्या

    भारतवर्ष एक ऐसा अद्भुत देश है जहां 80 करोड़ लोगों को निःशुल्क अनाज देकर उसी देश के लोगों ...

लिव इन रिलेशन – क़ानून बनने के बाद भी विरोध जारी

     लिव-इन रिलेशनशिप अर्थात 'स्वैच्छिक सहवास' को हमारे देश में क़ानूनी मान्यता हासिल हो चुकी है। भारत में लिव-इन ...

शीत लहरी में समस्या बनते ‘धुआं,धुंध और धूल’

     साधन संपन्न लोगों के लिये बेशक सर्दी का मौसम प्रकृति प्रदत्त एक अनमोल सौगात है। क्योंकि वे अपनी ...

मरती संवेदनायें – दम तोड़ते रिश्ते

    बात 1998 की है। चंडीगढ़ में पी जी आई के मुख्य द्वार के बाहर एक अति वृद्ध बुज़ुर्ग फ़ुटपाथ ...

खेल में सिर्फ़ जीत ही नहीं होती

     विश्व कप क्रिकेट का फ़ाइनल मैच पिछले दिनों अहमदाबाद में भारत व ऑस्ट्रेलिया के मध्य खेला गया। इसमें ऑस्ट्रेलिया ...

नारी स्मिता – सवाल भरोसे का ?

     दुनिया के अन्य देशों की तुलना में हमारे देश में नारी स्मिता व सम्मान की सबसे अधिक दुहाई ...

आवारा पशुओं का बढ़ता आतंक : जनता त्रस्त-सरकारें मौन

     हमारे देश का सत्ता नेतृत्व देश के आमजन की सुरक्षा की चाहे जितनी बातें करे ,अपनी तुलना स्वयंभू रूप ...

मिलावटख़ोरी देश के लिये कलंक

      वैसे तो जब भी भारत में मनाये जाने वाले प्रमुख त्यौहार क़रीब आते हैं उस समय खाद्य सामग्री ...

ख़ास लोगों की बनती जा रही आम जन की ट्रेन ?     

      नवरात्रि के अवसर पर पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की पहली रैपिड रेल सेवा का उद्घाटन किया। ...