समाज

विभिन्न धर्मों में माँ का अस्तित्व

मातृ दिवस पर विशेष दुनिया के सभी मज़हबों में माँ को बहुत अहमियत दी गई है, क्योंकि माँ के दम से ...

डॉ. वेदप्रताप वैदिक : समग्र भारतीयता के वैश्विक परिचय

डॉ. वेदप्रताप वैदिक प्रथम पुण्यस्मरण विशेष      विश्व जब इतराता है अपनी प्रगति पर, विशालकाय अट्टालिकाओं पर, पटरियों पर, सरपट ...

राम युग से अमृतकाल तक भारतीय नारी

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस विशेष        स्त्री सभी स्वरूप में भारतीय ज्ञान परम्परा के अनुसार वन्दनीय, पूजनीय और अनुकरणीय मानी गई ...

खेल में सिर्फ़ जीत ही नहीं होती

     विश्व कप क्रिकेट का फ़ाइनल मैच पिछले दिनों अहमदाबाद में भारत व ऑस्ट्रेलिया के मध्य खेला गया। इसमें ऑस्ट्रेलिया ...

रहती दुनिया तक प्रासंगिक रहेगा ‘गाँधी दर्शन’

                                                              गाँधी जयंती (2 अक्टूबर )हेतु विशेष      भारत ही नहीं बल्कि पूरे विश्व में राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की जन्मतिथि 2 ...

मानव-केंद्रित वैश्वीकरण : हमें जी20 को दुनिया के अंतिम छोर तक ले जाना है, किसी को भी पीछे नहीं छोड़ना है

नरेन्द्र मोदी  वसुधैव कुटुम्बकम् – हमारी भारतीय संस्कृति के इन दो शब्दों में एक गहरा दार्शनिक विचार समाहित है। इसका अर्थ ...

लिखते तो वे लोग हैं जिनके अंदर कुछ दर्द है…….

शोषित,वंचित व पीड़ित वर्ग की आवाज़ बुलंद करना लेखन का प्रथम दायित्व                                                                  क़लम के सिपाही  के नाम से प्रसिद्ध तथा ...

समान नागरिक संहिता के पक्ष में खड़ा है देश

देश में लंबे समय से तुष्टीकरण की राजनीति के चलते समान नागरिक संहिता लागू करने को लेकर कुछ राजनीतिक दल ...

समृद्ध दिल्ली ठगस्तान न बनने पाए

निरा खोखली है राजनैतिक शुचिता की बातें राजनीति का धर्म हो चाहे धर्म की राजनीति, भ्रष्टाचार का अंत हो चाहे अंत ...

दहशत-ए-कोरोना : एक अबूझ पहेली

              पूरे विश्व में एक बार फिर कोविड के विस्तार को लेकर चिंतायें बढ़ने लगी हैं। भारत सहित दुनिया के अनेक ...