देश को केवल और केवल प्रधानमंत्री जी की गारंटी पर विश्वास है

भारतीय जनता पार्टी के माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री जगत प्रकाश नड्डा ने आज सोमवार को उत्तर प्रदेश के वाराणसी में आयोजित विद्वत बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में देश में अभूतपूर्व विकास हुए हैं। आज आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी दुनिया की बड़ी शख्सियत हैं और इसकी नींव काशी है। इससे पहले श्री नड्डा ने वाराणसी में काल भैरव मंदिर और संकट मोचन मंदिर में पूजा अर्चना की और श्री नड्डा ने विकसित भारत के संकल्प की सिद्धी की कामना की। पूजा अर्चना के बाद मीडिया से मुखातिब होते हुए श्री नड्डा ने कहा कि आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में लोकसभा चुनाव 2024 में भारतीय जनता पार्टी को प्रचंड बहुमत मिलेगी।

श्री नड्डा ने कहा कि आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के साथ काम करना गौरव का विषय है। 10 वर्षों पहले भारत भ्रष्टाचारी देशों में से एक था, लोग मानने लगे थे कि भारत में कुछ नहीं बदलेगा और भारत में उदासीनता का माहौल बन गया था। 10 वर्षों में आदरणीय प्रधानमंत्री जी ने राजनीति के माध्यम से सामान्य लोगों में ये विश्वास पैदा किया कि भारत विकसित भारत के संकल्प के साथ आगे बढ़ सकता है। आज भारत का नाम अग्रणी देशों में गिना जाता है। पहले राजनीति का मतलब हुआ करता था कि ‘फूट डालो – राज करो’। देश में जाति, धर्म और क्षेत्र की राजनीति होती थी, लेकिन माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास के मंत्र पर देश की राजनीति की परिभाषा, संस्कृति और तरीका बदल गया है। आज देश आगे बढ़ रहा है और विकसित भारत की नींव रखने का समय 1 जून 2024 है, जब वाराणसी की जनता भाजपा को आशीर्वाद देगी।

आदरणीय राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने कहा है कि ‘न आंख ऊपर उठा के देखेंगे, न झुका के देखेंगे, बल्कि आंखों से आंखें मिला के देखेंगे’। इन तीन बातों से भारत को स्थापित किया और बताया कि चाहे कोई भी देश हो, 140 करोड़ लोगों का प्रतिनिधित्व करने वाला भारत बराबरी से बात करेगा। जी-7, जी-20 और एससीओ तक ऐसा कोई वैश्विक फोरम नहीं है जहां भारत का प्रतिनिधित्व नहीं हो रहा है। जिस वैश्विक संगठन का सदस्य भारत नहीं है, वहां भी आमंत्रित सदस्य के तौर पर भारत की मौजूदगी है। विश्व मित्र के रूप में भी भारत ने खुद को स्थापित किया है। नेपाल में कोई घटना घटी, तुर्की में भूकंप आया, कहीं सुनामी आई या त्रासदी हुई तो भारत सबसे पहले मदद के लिए आगे आता है। भारत में ट्यूबरक्लोसिस की दवा आने में 25 साल लग गए, टिटनेस की दवा को आने में 28 साल लग गए, जापानी बुखार की दवा आने में 100 साल लग गए, लेकिन बदलते भारत ने कोरोना का पहला केस आने के 9 महीनों के भीतर दो वैक्सीन बनाकर तैयार कर लीं। आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने 220 करोड़ डबल डोज देकर 140 करोड़ जनता को कोरोना महामारी से बचाने का कार्य किया है। आज के समय में अमेरिका में भी कोरोना की वैक्सीन लगने का सर्टिफिकेट कागज पर है लेकिन भारत में कोरोना की वैक्सीन लगने का सर्टिफिकेट मोबाईल में डिजिटल तौर पर उपलब्ध है और यह डिजिटल भारत की तस्वीर है। कोरोना महामारी के दौरान भारत में शुरू किया गया टीकाकरण अभियान विश्व का सबसे बड़ा और सबसे तेज गति से चलने वाला अभियान था। दुनियाभर के अन्य देश टीकाकरण के क्षेत्र में केवल 70 से 80 प्रतिशत तक ही टीकाकरण पूरा कर पाए लेकिन भारत 220 करोड़ कोरोना की वैक्सीन लगाकर तेज गति से टीकाकरण अभियान पूरा किया है। आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने न केवल भारत बल्कि दुनियाभर के 100 से ज्यादा देशों को भारत में बनी वैक्सीन पहुंचाई है जिसमे से 48 देशों को मुफ़्त मएइन वैक्सीन मुहैया कारवाई है।

श्री नड्डा ने कहा कि आज भारत मांगने वाला नहीं बल्कि देने वाला भारत बन गया है और यह बदलते भारत की तस्वीर है। कोरोना महामारी के समय सभी देश इस असमंजस में थे कि पहले जान बचाएं या देश के अर्थतंत्र को बचाएं लेकिन आदरणीय प्रधनमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने जनता कर्फ्यू लगाकर जनता की सुरक्षा करने का काम किया है। दुनियाभर में सब जगह कोरोना के खिलाफ सरकारों ने लड़ाई लड़ी लेकिन भारत में आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में पूरे देश ने लड़ाई लड़ी है। आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने जान है तो जहान है के मंत्र पर काम कर के जान भी है और जहान भी है के मंत्र को सिद्ध कर के दिखाया है। 

माननीय भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि कोरोना महामारी के समय आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने 25 लाख करोड़ रुपए का एक पैकेज की व्यवस्था की थी, जिसमें किसानों के लिए 1 लाख करोड़ रुपए, लघु उद्योग क्षेत्र के लिए और 80 करोड़ जनता को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना के माध्यम से गरीबों को निःशुल्क अनाज मुहैया करवाया। आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी का मानना था कि जनता को पैसा नहीं दिया जाएगा बल्कि उन्हें उस पैसे के माध्यम से सशक्त बनाया जाएगा क्योंकि उनका मानना है कि अगर आपदा आई है तो आपदा अवसर भी है और अवसर में किसानों को सशक्त बनाया जाएगा, लघु उद्योग क्षेत्रों को सशक्त किया जाएगा। यह उसी प्रयास का ही नतीजा है कि जब सभी देशों की अर्थनीति डगमगा रही है तब आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में भारत की अर्थव्यवस्था 11 वें स्थान से 5 वें स्थान पर पहुँच गई है और आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद भारत की अर्थव्यवस्थ विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन जाएगी। आज भारत दवाइयों के उत्पादन में दूसरे नंबर पर हैं, दुनिया में सबसे सस्ती और असरदार दवाई भारत में बन रही है। केमिकल के क्षेत्र में भारत से केमिकल का निर्यात 106% बढ़ा है, खिलौना उद्योग में भारत तीसरे नंबर पर पहुँच गया है, ऑटोमोबाईल के क्षेत्र में भारत विश्वभर में तीसरे स्थान पर पहुँच गया है। 10 साल पहले भारत में इस्तेमाल होने वाले सभी मोबाईल फोन, कोरिया, जापान और चीन में बनाए जाते थे, आज हर मोबाईल का विनिर्माण भारत में हो रहा है। जब देश की बागडोर श्री नेतृत्व के हाथों में पहुँचती है तब देश आगे बढ़ता है लेकिन जब गलत व्यक्तियों के हाथ में आता है देश पिछड़ने और बिखरने लगता है।

श्री नड्डा ने कहा कि 10 वर्षों पहले जब भी अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर भारत की बात की जाति थी तब हमेशा पाकिस्तान को भारत के साथ जोड़ा जाता था लेकिन आज दुनिया का कोई भी नेता भारत के साथ पाकिस्तान को नहीं जोड़ता है। यूपीए शासन के समय मनमोहन सिंह जब विदेश जाते थे तब वे आतंकवाद की बात करते थे, लेकिन आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में आज भारत एयर स्ट्राइक करके आतंकवादियों को मुहतोड़ जवाब देती है। रूस यूक्रेन युद्ध के समय भी आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने नेशन फर्स्ट की नीति अपनाई और अपना वक्तव्य उसी तरह विश्व के सामने रखा। आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने गांव, गरीब, पीड़ित, वंचित, शोषित, युवा, महिला और किसानों को ताकत पहुंचाने का काम किया है। आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में 2 लाख पंचायतों में ऑप्टिकल फ़ाइबर पहुँच रही है, 2 लकह गाँव में सामुदायिक सर्विस सेंटर खुले हैं और यह बदलते भारत की तस्वीर है। पहले कहा जाता था कि भारत तो अनपढ़ है, यहां तो डिजिटल चलेगा ही नहीं, यहां तो इसका कोई उपयोग ही नहीं है लेकिन यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व में आज कल जगह-जगह पर डिजिटल लेन देन होता हैं, ये बदलता और विकास की ओर अग्रसर भारत है।

माननीय राष्ट्रीय अध्यक्ष ने कहा कि आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने 80 करोड़ लोगों को मुफ़्त में राशन मुहैया करवाया है, 4 करोड़ लोगों को पक्के घर दिए हैं और देश के लोगों के घरों का बिजली का बिल शून्य करने के लिए प्रधानमंत्री सूर्यघर मुफ्त बिजली योजना के तहत हर घर पर सोलर पैनल लगाए जाएंगे और अतिरिक्त बिजली को सरकार खरीदेगी ताकि यह लोगों की आमदनी का माध्यम भी बन सके। प्रधानमंत्री उज्ज्वला योजना के तहत देश की 10 करोड़ माताओं-बहनों को निशुल्क गैस सिलेंडर दिए गए हैं, 12 करोड़ बहनों को शौचालय बनाकर दिए गए, जिसके लिए संयुक्त राष्ट्र ने आदरणीय श्री नरेन्द्र मोदी जी को सम्मानित किया। प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना के तहत 10 करोड़ 74 लाख गरीब परिवारों को गंभीर बीमारियों से लड़ने के लिए 5 लाख रुपए का निशुल्क बीमा दिया गया है और आदरणीय श्री नरेन्द्र मोदी जी के तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद 70 वर्ष से अधिक उम्र के देश के हर वर्ग के व्यक्ति को 5 लाख तक का निशुल्क इलाज दिया जाएगा। देश में 55 हजार किमी राष्ट्रीय राजमार्ग बने हैं, आने वाले 5 वर्षों में एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशनों में अंतर स्पष्ट नहीं होगा रेलवे के विकास के लिए इस तरह के कार्य किये जा रहे हैं। आधारभूत संरचना के विकास के लिए  एक वर्ष में 10 लाख करोड़ रुपए खर्च किए गए हैं। हर तिमाही में भारत की अर्थव्ययवस्था बढ़ रही है। यह एक एतिहासिक पल है जब देश को यह देखने का सौभाग्य मिल रहा है जहां सबका विकास, सबका साथ, सबका विश्वास और सबका प्रयास के मंत्र को लेकर आदरणीय प्रधानमंत्री जी देश को आगे बढ़ाने का कार्य कर रहे हैं।   

Kamal sandes

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

*