खेत-खलिहान

किसानों हितैषी होनेंं का ढोंग कर रहे हैं राहुुल गांधी

राहुल गाँधी नें कितने किसानों को एमपी, एमएल या मिनिस्टर बनाया ? नई दिल्ली। ''किसानों  के हमदर्द बनने वाले राहुल गाँधी ...

खाट बिछेगी तो नहीं, खड़ी ही होगी

कांग्रेस  उत्तरप्रदेश में अपनी सियासी जमीन हासिल करने के सारे प्रयत्न कर रही है। इसी रणनीति का हिस्सा हैं कांग्रेस ...

‘कृषि प्रधान देश  में गहराता जल संकट

                 हालांकि हमारे देश के कुछ राज्यों के कुछ इलाके सूखे जैसी प्राकृतिक विपदा का सामना हमेशा से ही करते ...

क़र्ज़ माफ़ी की ज़रूरत किसे है

ग़रीब हमेशा अपनी मेहनत की कमाई खाता है. वह किसी से क़र्ज़ लेगा, तो ब्याज़ समेत उसे देगा. ग़रीबों का ...

लुटेरे बने महान और फांसी चढ़े किसान ?

अपने शाही ठाठ-बाठ और असाधारण जीवन शैली के लिए कारपोरेट जगत में अपनी विशेष पहचान रखने वाले तथाकथित उद्योगपति विजय ...

भोजन में मीठा ज़हर

देश की एक बड़ी आबादी धीमा ज़हर खाने को मजबूर है, क्योंकि उसके पास इसके अलावा कोई दूसरा चारा नहीं ...

60-12=48

आपको नौकरी मिली। नहीं मिली। किसानों को खून पसीने की कमाई मिली। नहीं मिली। जवानों के कटते गर्दन का जवाब ...

किसानों के अंधेरे घर से सियासी दीया जलाने का हुनर

यह कल्पना के परे है कि मरते किसानों के बीच से कुछ किसानो को चुन लिया जाये और फिर उनके ...

फसल ऊपरवाला ले गया, नौकरी अखिलेश और जमीन मोदी

सात रुपये का चेक। किसी किसान को मुआवजे के तौर पर अगर सात रुपये का चेक मिले तो वह क्या ...

सियासत तले दबे किसानों का दर्द कौन समझेगा ?

किसानों के हक में है कौन, यह सवाल चाहे अनचाहे भूमि अधिग्रहण अध्यादेश ने राजनीतिक दलों की सियासत तले खड़ा ...