घोटाला/भ्रष्टाचार

जनमत का अपमान करते ये “थाली के बैंगन “

                  राजस्थान की राजनीति में गत दिनों एक बार फिर स्वार्थी व सत्ता की घोर चाहत रखने वाली राजनीति का ...

आपातकाल: इंदिरा के अत्‍याचार से जनता की रूह कांप गई थी

1975 की तपती गर्मी के दौरान अचानक भारतीय राजनीति में भी बेचैनी दिखी. यह सब हुआ इलाहाबाद हाई कोर्ट के ...

आप की उल्टी गिनती शुरू

                आजकल उल्टी गिनती एक ”सूचक“ बन गई है, किसी महत्वपूर्ण काम की शुरूआत के लिए या किसी बड़े बदलाव ...

“रेनकोट” (rain coat) तो हर किसी ने पहन रखा है साहेब !

रेनकोट तो हर किसी ने पहना है। क्या नेहरु। क्या इंदिरा। क्या राजीव गांधी। और क्या पीवी नरसिंह राव या ...

क्या यह पूरा न्याय है

क्या यह पूरा न्याय है 'व्यापम' अर्थात व्यवसायिक परीक्षा मण्डल, यह उन पोस्ट पर भर्तियाँ या एजुकेशन कोर्स में एडमिशन करता ...

विष-वृक्ष की जडों के पोषण और पत्तों के डिजिटलाइजेशन की त्रासदी

        भारत में ‘काला धन’ और ‘काली कमाई’ वस्तुतः दुनिया भर से सारे धन बटोर लेने-हडप लेने को आतुर युरोपीय उपनिवेशवाद ...

कुनबे की कलह से ढहेगा समाजवादी साम्राज्य

समसामयिक: अखिलेश यादव के पार्टी से निष्कासन पर विशेष  ‘वंशवाद’शब्द नेहरू-गांधी परिवार की निंदा के लिए विद्वत्ता का मुखौटा लगाने का ...

कांग्रेस के ऐतिहासिक सत्य का अनैतिक तथ्य 

      भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थापना एक अंग्रेज के हाथों किया जाना एक बहुत  बडा ऐतिहासिक सत्य है , किन्तु ...

सियासी नौंटकी का फोकटिया प्रचार

बचपन में एक कहानी पढ़ी थी किस तरह बीमार बेटे हुमांयू की जान बचाने के लिए वालिद बाबर ने अल्लाह ...

सिर्फ मायावती क्यों, सभी क्यों नहीं?

       दिल्ली की एक बैंक में मायावती की बसपा का एक खाता पकड़ा गया है, जिसमें नोटबंदी की घोषणा ...